Dard Bhari Shayari November 2020 दर्द भरी शायरी नवंबर 2020

Dard Bhari Shayari November 2020

Dard Shayari is a form of poetry expressing painful feelings of the heart. We have collected the best ever Dard Bhari Shayari in Hindi and English script. It is all about the extreme pain of feelings raised in the heart due to incomplete love or some bad incidents in life.

If you want the latest Hindi Dard Shayari, Best Painful Shayari, Dard Shayari on the photo then read our entire collection and feel the depth of words with heart.


Dard Bhari Shayari November 2020

Dard Bhari Shayari November 2020

दिल में बहुत दर्द छुपाए बैठे है 

हम तो लाखो धोखे खाए बैठे है

कौन सुनेगा यहाँ बात हमारी 

अपनों को भी दर्द सुनाए बैठे है 


"विशाल" 


Dil Mein Bahut Dard Chupaye Baithe Hai

Hum To Lakho Dokhe Khaye Baithe Hai

Kaun Sunega Yahan Baat Humari 

Apno Ko Bhi Dard Sunaye Baithe Hai 


"Vishal"


〰〰〰〰〰❤❤❤〰〰〰〰〰❤❤❤〰〰〰〰〰❤❤❤〰〰〰〰〰


मुझे ज़िन्दगी ने बहुत कुछ सिखाया 

अपना है कौन, कौन हुआ है पराया 

दर्द-ए-दिल का नहीं साथी कोई 

वक़्त-ए-मुश्किल ने यही समझाया 


"विशाल" 


Mujhe Zindagi Ne Bahut Kuch Sikhaya 

Apna Hai Kaun, Kaun Hua Hai Praya 

Dard-e-Dil Ka Nahi Saathi Koi

Waqt-e-Mushkil Ne Yehi Samjhaya 


"Vishal"


〰〰〰〰〰❤❤❤〰〰〰〰〰❤❤❤〰〰〰〰〰❤❤❤〰〰〰〰〰


ना पूछिए हाल मेरे दर्द-ए-दिल का 
यह अनेको ज़ख्मो से भरा हुआ है 
उसके आने की उम्मीद लेकर है बैठा 
अजलो से वैसे तो यह मरा हुआ है 

"विशाल" 

Na Poochiye Haal Mere Dard-e-Dil Ka
Yeh Aneko Zakhmo Se Bhra Hua Hai
Uske Aane Ki Umeed Lekar Hai Baitha
Azlo Se Waise To Yeh Mra Hua Hai

"Vishal"

〰〰〰〰〰❤❤❤〰〰〰〰〰❤❤❤〰〰〰〰〰❤❤❤〰〰〰〰〰


Dard Bhari Shayari November 2020

Dard Bhari Shayari

ना बताना किसी को दर्द अपना 
यहाँ लोग लुटे है अपना बनाकर 

"विशाल" 

Na Batana Kisi Ko Dard Apna 
Yahan Log Lute Hai Apna Bnakar 

"Vishal"

〰〰〰〰〰❤❤❤〰〰〰〰〰❤❤❤〰〰〰〰〰❤❤❤〰〰〰〰〰

कितने मासूम लोग मर रहे है यहाँ पर 
कोई फरक नहीं है किसी को जहाँ पर 
जिस जगह पे इंसानियत खत्म हो जाए
इंसान नहीं है मिट्टी होगी वहाँ पर

"विशाल" 


Kitne Masoom Log Mar Rahe Hai Yahan Par
Koi Farak Nahi Hai Kisi Ko Jahan Par 
Jiss Jagah Pe Insaniyat Khatam Ho Jaye
Insan Nahi Hai Mitti Hogi Wahan Par 

"Vishal"

〰〰〰〰〰❤❤❤〰〰〰〰〰❤❤❤〰〰〰〰〰❤❤❤〰〰〰〰〰

हमसे दूर तुम क्यों जा रहे हो 
हमे राह-ए-गम तुम क्यों पा रहे हो 
दर्द-ए-जुदाई का सहन ना होगा 
मुझपे कहर तुम क्यों ढाह रहे हो 

"विशाल" 

Humse Door Tum Kyon Ja Rahe Ho
Hume Raah-e-Gam Tum Kyon Pa Rahe Ho
Dard-e-Judai Ka Sehan Na Hoga
Mujhpe Kehar Tum Kyon Dhaah Rahe Ho

"Vishal"

〰〰〰〰〰❤❤❤〰〰〰〰〰❤❤❤〰〰〰〰〰❤❤❤〰〰〰〰〰

Dard Bhari Shayari November 2020

Sad Shayari November 2020

ना पूछिए हमसे दर्द-ए-दिल का हाल साहिब
उस के बिना जीना भी हुआ है मुहाल साहिब 

"विशाल" 

Na Poochiye Humse Dard-e-Dil Ka Haal Sahib
Us Ke Bina Jina Bhi Hua Hai Muhal Sahib


"Vishal"

〰〰〰〰〰❤❤❤〰〰〰〰〰❤❤❤〰〰〰〰〰❤❤❤〰〰〰〰〰

दर्द आशना नहीं है कोई मेरा 
ज़माने को पर्ख कर देखा है मैंने 

"विशाल" 

Dard Aashna Nahi Hai Koi Mera
Zamane Ko Parkh Kar Dekha Hai Maine

"Vishal"

〰〰〰〰〰❤❤❤〰〰〰〰〰❤❤❤〰〰〰〰〰❤❤❤〰〰〰〰〰

उस बे-दर्द को बताना कभी हाल मेरा 
उस के बगैर हरपल कैसे जिया था मैं 
खबर ना रहती थी मुझको दिन-ओ-रात की 
दर्द-ए-गम का प्याला कैसे पिया था मैं 

"विशाल" 

Ous Be-Dard Ko Batana Kabhi Hal Mera
Ous Ke Bgair Har pal Kaise Jiya Tha Main
Khabar Na Rehti Thi Mujhko Din-O-Raat Ki
Dard-e-Gam Ka Pyala Kaise Piya Tha Main

"Vishal"

〰〰〰〰〰❤❤❤〰〰〰〰〰❤❤❤〰〰〰〰〰❤❤❤〰〰〰〰〰

Dard Bhari Shayari November 2020

Sad shayari 2020

कोई अपना छोड़ जाए तो दर्द होता है 
खाई कसमे तोड़ जाए तो दर्द होता है 
जिसकी खातिर लगा दी हमने उम्र सारी
वही मुखड़ा मोड़ जाए तो दर्द होता है 

"विशाल" 

Koi Apna Shod Jaaye To Dard Hota Hai
Khai Kasme Toad Jaye To Dard Hota Hai
Jiski Khatir Lga Di Humne Umar Saari
Wahi Mukhda Moad Jaaye To Dard Hota Hai

"Vishal"

〰〰〰〰〰❤❤❤〰〰〰〰〰❤❤❤〰〰〰〰〰❤❤❤〰〰〰〰〰

Sad Shayari पढ़ने के लिए यहाँ Click करे
Hindi & Urdu Shayari पढ़ने के लिए यहाँ Click करे 
Photo Shayari पढ़ने के लिए यहाँ Click करे 
Motivational Shayari पढ़ने के लिए यहाँ Click करे 




Post a Comment

0 Comments